Tue. May 21st, 2024

 

देव वार्ता समाचार

आपको बता दें कि आज राष्ट्रीय सूफी संत फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पत्रकार नौशाद अली की कयादत में राष्ट्रीय सूफी संत फाउंडेशन के सुन्नी कार्यकर्ताओं ने इत्तेहादुल आलमीन कार्यक्रम के अंतर्गत इमामबाड़ा अहबाब नगर ज्वालापुर हरिद्वार मैं मोहर्रम के दिनों में शिया मुस्लिमों के यहां इमाम बारगहो मजलिस होती है इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम को कर्बला में72 साथियों सहित शहीद किया गया था उनकी याद में मजलिस होती है इत्तेहादुल आलमीन कार्यक्रम के अंतर्गत राष्ट्रीय सूफी संत फाउंडेशन के सुन्नी कार्यकर्ताओं ने शिया मुसलमानों की मजलिस में भाग लिया और शिया सुन्नी इत्तेहाद की बात की और साथ ही कहा कि सूफी संतों के रास्ते पर चलकर ही पूरे आलम में एकीकरण हो सकता है सभी इंसानों को चाहिए कि वह एक दूसरे की अकीदत आस्था की कदर करें और उनके धार्मिक कार्यक्रमों में शिरकत करें RSF के कार्यकर्ताओं द्वारा इस तरह की मिसाले देखने को मिलती रहती है नौशाद अली ,आनिस खान ,रहमान अली , सईद अहमद, इमरान साबरी, इकराम साबरी , अरशद नियाजी, शहनवाज कादरी, आदि ने मजलिस में शिरकत की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *