Tue. May 21st, 2024

उत्तरकाशी। उत्तरकाशी जिले में अप्रशिक्षित पीआरडी जवानों की नियुक्ति के खिलाफ प्रशिक्षित जवानों में विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त है। प्रशिक्षितों ने विभाग पर भ्रष्टाचार और चहेतों को नौकरी देने का आरोप लगाते हुए कलक्ट्रेट में डीएम को ज्ञापन सौंपकर शीघ्र उचित कार्यवाही की मांग रखी। साथ ही अप्रशिक्षितों को ना हटाए जाने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी दी। शुक्रवार को प्रशिक्षित पीआरडी जवान संगठन के अध्यक्ष सुबोध रतूड़ी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कलक्ट्रेट परिसर पहुंचे। कलक्ट्रेट में डीएम अभिषेक रूहेला को ज्ञापन सौंपते हुए प्रशिक्षित जवानों ने युवा कल्याण विभाग पर मनमानी और उपेक्षा का आरोप लगाया। रतूड़ी ने लिखित पत्र के माध्यम से बताया कि पीआरडी जवान उत्तराखंड पुलिस के साथ कन्धा से कन्धा मिलाकर प्रदेश में ईमानदारी के साथ ड्यूटी निभा रहे हैं, इसके बावजूद प्रशिक्षित जवानों को हटाया जा रहा है। यहां तक कोविड काल में अपनी सेवाएं देने वाले पीआरडी जवानों को बाहर का रास्ता दिखाया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि नेताओं समेत विभाग में जितने कर्मचारी या अधिकारी हैं, उन सबने अपने रिश्तेदारों को नौकरी देने का काम किया है। जिससे प्रशिक्षित पीआरडी जवानों के समक्ष रोजी रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है। चिन्यालीसौड़ से आईं पीआरडी प्रशिक्षिता गुड्डी ने बताया कि हाईकोर्ट ने अप्रशिक्षितों को हटाकर प्रशिक्षितों को नियुक्ति देने का आदेश किया है, इसके बावजूद विभागीय अधिकारी आदेशों की अवहेलना कर रहे हैं। ज्ञापन देने वालों में रमेश लाल, सुनीता, अमिता, शकुंतला, कमलेश्वर प्रसाद, श्रवण कुमार, पन्नालाल, जयकृष्ण आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *