Tue. May 21st, 2024

देव वार्ता समाचार

सम्पादक नौशाद अली

*बारात निकलना तय, अब नशा तस्करों की घर/हवेली भी होंगी नीलाम/जब्त*

*एसएसपी की मुहिम, ला रही रंग*

*नशा बेचकर काली कमाई से खड़ी की गई इमारतें और सम्पति हो रही हैं जब्त*

*नशे के बड़े सौदागर सद्दाम उर्फ गुल्लू की प्रॉपर्टी की कीमत आंकी गई करीब ₹ 35 लाख*

*आंकी गई संपति हुई फ्रीज*

*नसों में नशा घोल कमाए गए हर मुनाफे का होगा अब पूरा हिसाब*

*पहले भी नशा तस्करों की करोड़ो की संपत्तियां हो चुकी हैं फ्रीज*

*नशे का कारोबार कर बनाई गई आलिशान कोठियों और लग्जरी गाड़ियों को हम विधिवत जब्त कर रहे हैं और भी अवैध धंधे करने वालों की तरफ हमारा ध्यान है, उनका नंबर भी जल्द आने वाला है – एसएसपी अजय सिंह*

*थाना पथरी*

माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखंड के ड्रग्स फ्री उत्तराखण्ड मिशन 2025 के अंतर्गत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार श्री अजय सिंह के स्पष्ट निर्देशों के अनुपालन में दिनांक 06-05-23 को थाना पथरी पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त सद्दाम उर्फ गुल्लू पुत्र सलीम निवासी ग्राम कासमपुर थाना पथरी हरिद्वार के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करते हुए 266 ग्राम अवैध स्मैक के साथ गिरफ्तार कर थाना पथरी में मु.अ.सं. 172/23 धारा 08/21 ndps act 1985 दर्ज किया गया था।

उक्त बरामदा अवैध स्मैक चूंकि वाणिज्यिक मात्रा अंतर्गत आती थी। इसलिए अभियुक्त सद्दाम उपरोक्त के विरुद्ध धारा 68 (1) (2) ndps ऐक्ट 1985 के अंतर्गत फाइनेंशियल विवेचना अमल में लाई गई।

शुरुआत से ही नशे के खिलाफ बेहद सख्त रुख अपना रहे *एसएसपी हरिद्वार श्री अजय सिंह द्वारा इस पूरे मामले पर क्लोज मॉनिटरिंग की गई* जिनके शार्प निर्देशन में गठित की गई पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त सद्दाम उर्फ गुल्लू उपरोक्त द्वारा अवैध स्मैक बेचकर अर्जित की गई संपत्ति का अधिशासी अभियंता प्रांतीय खंड लोक निर्माण विभाग हरिद्वार द्वारा मूल्यांकन कराया गया, जिसकी कुल कीमत 3458840/- रुपए ज्ञात हुई।

जांच में अभियुक्त सद्दाम उपरोक्त का कोई अन्य व्यवसाय या आय का अन्य कोई स्रोत होना नहीं पाया गया।

जिस पर अग्रिम विधिक कार्रवाई करते हुए हरिद्वार पुलिस द्वारा उक्त संबंध में संबंधित विभाग से पत्राचार किया गया। जहां *”हरिद्वार पुलिस की लगातार ठोस पैरवी व अथक प्रयास के फलस्वरूप इस कार्य हेतु दिल्ली स्थित अधिकृत विभाग/सक्षम प्राधिकारी द्वारा अभियुक्त सद्दाम उर्फ गुल्लू उपरोक्त की अवैध स्मैक बेच कर अर्जित की गई लगभग 35 लाख रुपए की संपत्ति को फ्रीज करने के स्पष्ट आदेश पारित किए गए”*।

हरिद्वार पुलिस द्वारा नशे के कारोबार को जनपद में जड़ से खत्म करने के लिए दिन-रात मेहनत कर इस काम में लिप्त नशे की सौदागरों पर कड़ा प्रहार किया जा रहा है। जहां विगत कुछ ही महीनों के अंतराल में इनकी करोड़ों की संपत्तियों को जब्त/फ्रीज किया जा चुका है।

*हरिद्वार पुलिस की इस ठोस कार्रवाई से जहां पूरे जनपद में अवैध नशे का कारोबार करने वालों में दहशत बढ़ेगी तो वहीं इस कारोबार के बेतरतीब फलने-फूलने पर भी रोक लगेगी।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *